आजकल लोग चाय की दुकान, फास्ट फूड कॉर्नर , रेस्टोरेंट आदि स्टार्टअप कह देते है।

लेकिन इन स्मॉल बिजनेसों को स्टार्टअप बोल देना सही नहीं है।

क्योंकि स्टार्टअप अपने आप में एक यूनिक बिजनेस आइडिया होता है।

इसी प्रकार का एक यूनिक स्टार्टअप अदिति और चेतन ने बनाया था।

इन दोनों ने साथ मिलकर Repos Energy की शुरुआत की थी।

ये स्टार्टअप हर तरह की एनर्जी वितरण प्रणाली को एक नए तरीके बना रहा है।

इनके ऐप के माध्यम से आप लिक्विड, गैस या फिर इलेक्ट्रिसिटी को अपने दरवाजे तक मँगा सकते है। 

इस यूनिक आइडिया की वजह से ही रतन टाटा ने इनके फाउंडर्स को स्वयं कॉल किया था।

रतन टाटा ने इनके आइडिया को सुना और इनके स्टार्टअप में निवेश भी किया।

ये स्टार्टअप सालाना 65 करोड़ रुपयों तक का बिजनेस कर रहा है।

अगले साल जून तक ये 100-300 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी कर रहे है।