TATA की ज्यादातर कम्पनियाँ एक फायदेमंद व्यापार कर रही है।

इसीलिए TATA को कर्ज लेने की आवश्यकता नहीं पड़ती है।

लेकिन अब TATA की एक कंपनी एक बड़ा कर्ज लेने की तैयारी कर रही है।

TATA की उस कंपनी का नाम "टाटा कैपिटल" है।

टाटा कैपिटल 10,000 करोड़ का कर्ज लेने की नीति बना रहा है।

टाटा कैपिटल आखिर इतना बड़ा कर्ज क्यों लेने जा रहा है?

ये इससे होम और पर्सनल लोन सर्विस में और मजबूती बनाना चाह रहे है। 

इसके अलावा ये रीटेल लोन सेगमेंट में भी मजबूती लाना चाहते है। 

इस कर्ज के द्वारा कंपनी की बैलेंसशीट को बेहतर करना चाहते है। 

कर्ज लेने की खबर बिजनेस स्टैंडर्ड द्वारा पब्लिश की गई है। 

कंपनी की तरफ से कर्ज को लेकर कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है। 

2019 में टाटा संस ने इसमें 2500 करोड़ निवेश किये थे। 

2020 में टाटा संस ने फिर से इसमें 1000 करोड़ का निवेश किया।