अक्टूबर 2017 में GoFirst देश की 5 वीं सबसे बड़ी एयरलाइन्स कम्पनी थी।

लेकिन GoFirst ने अब खुद को स्वैक्षिक दिवालिया घोषित कर दिया है।

जिसके बाद इनके 5,000 कर्मचारियों की नौकरी पर खतरा आ गया है।

GoFirst, वाडिया ग्रुप के स्वामित्व वाली कंपनी है।

संकट से जूझते इन कर्मचारियों को अब रतन टाटा का साथ मिल गया है।

रतन टाटा की Air India एयरलाइन्स ने अब नई भर्ती निकाल दी है।

Air India ने दिल्ली में वाक-इन-इंटरव्यू का आयोजन कर दिया है।

इस इंटरव्यू में GoFirst के पॉयलेट समेत कई कर्मचारी भी जा चुके है।

पॉयलेट अपने फ्लाइंग लाइसेंस जारी रखने के लिए दूसरी नौकरी का रुख कर रहे है।