एक कम्पनी को खरीदने के लिए अम्बानी-अडानी आमने सामने आ गये थे।

लेकिन अम्बानी-अडानी अब उस डील की रेस से बाहर हो चुके है।

Arrow

उस दिवालिया कम्पनी का नाम "फ्यूचर रिटेल लिमिटेड" है।

Big Bazaar रीटेल चेन भी फ्यूचर रिटेल लिमिटेड ने शुरू किया था।

फ्यूचर रिटेल लिमिटेड के ऊपर 21,000 करोड़ का कर्ज है।

इसी कर्ज की वजह से ये कम्पनी दिवालिया बन चुकी थी।

जिसके बाद इसको बेचने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी।

पिछले साल मुकेश अम्बानी ने इस कम्पनी को खरीदने में दिलचस्पी दिखाई थी।

अम्बानी और अडानी में इस डील को लेकर कड़ा मुकाबला भी देखा जा रहा था।

लेकिन अब ये दोनों ही इस डील से बाहर हो गए है।

इस कम्पनी को खरीदने के लिए 49 खरीददारों ने दिलचस्पी दिखाई थी।

लेकिन अब केवल 6 खरीददार ही इस डील के अंतिम राउंड में मुक़ाबला करेंगे।

Arrow

स्टार्टअप, बिजनेस और फाउंडर्स  की सफलता की कहानी पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

THE END...