आपने वेदांता रिसोर्सेज कंपनी का नाम तो सुना ही होगा?

अनिल अग्रवाल इस कंपनी के फाउंडर व चेयरमैन है। 

वेदांता रिसोर्सेज देश की सबसे बड़ी माइनिंग कंपनी है। 

अनिल अग्रवाल ने अपनी कंपनी के बहुत बड़े लोन को चुका दिया है। 

चुकाये गए लोन की कुल धनराशि "300 करोड़ डॉलर" है। 

इन्होंने अप्रैल में मैच्योर होने वाले लोन और बॉन्ड्स को चुका दिया है। 

 इन्होंने 400 करोड़ डॉलर के कर्ज को चुकाने का लक्ष्य रखा था। 

लेकिन मात्र 14 महीने में ही इन्होंने अपने लक्ष्य का 75% कर्ज चुका दिया है।

वेदांता रिसोर्सेज कंपनी के अनुसार -

पिछले साल मार्च 2022 के अंत में हम पर 9.7 अरब डॉलर का कर्ज था। 

मार्च 2023 के अंत में ये कर्ज 7.8 अरब डॉलर तक पहुँच गया। 

24 अप्रैल को उनका ग्रॉस कर्ज 6.8 अरब डॉलर है। 

मई में भी 50 करोड़ डॉलर के बॉन्ड्स मैच्योर होने वाले हैं। 

The End...