हिंडनबर्ग द्वारा लगाई गई आग अभी तक ठंडी भी नहीं हुई थी कि... 

अडानी ग्रुप के खिलाफ एक और रिपोर्ट ने दस्तक दे दी है। 

अब "The Ken" ने अडानी ग्रुप पर कई आरोप लगाये हैं। 

द केन की रिपोर्ट के अनुसार -

असल में अडानी ग्रुप ने 2.15 अरब डॉलर का लोन नहीं चुकाया है। 

बल्कि पार्शियल रीपेमेंट के जरिये केवल कर्ज की रकम को घटाया गया है।

कर्ज भुगतान के बाद अडानी ग्रुप ने अनाउंसमेंट करा दी। 

जिसके बाद बैंकों ने अडानी पोर्ट्स के गिरवी रखे शेयर्स कर दिए है। 

जबकि प्रमोटर्स के शेयर्स का बड़ा हिस्सा अभी तक रिलीज नहीं किया गया है। 

ये डाटा द केन को अडानी ग्रुप की रेगुलेटरी फाइलिंग से पता चला है। 

संकट की इस घड़ी में अडानी ने खरीदा हजारो करोड़ों का पोर्ट...

Arrow
Arrow

स्टार्टअप, बिजनेस और फाउंडर्स  की सफलता की कहानी पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें