Gutter cleaning startup Solinas gets 90 lakh funding from Shark Tank India Season 2
|

गटर की गंदगी साफ करने वाले स्टार्टअप को 90 लाख की फंडिंग मिली – Solinas at Shark Tank India Season 2

Solinas at Shark Tank India Season 2 : शार्क टैंक इंडिया सीजन 2 के एपिसोड-16 में चेन्नई से चार युवा फाउंडर्स आते है। ये गटर, सीवर पाइपलाइन, लैटरिंग टैंक आदि की सफाई करने के लिए रोबोट और मशीनों का निर्माण करते हैं। इसकी शुरुआत एक कॉलेज असाइनमेंट से हुई थी लेकिन आज इसकी मदद से ये सालाना का करोड़ों का बिजनेस कर रहे है।

2013 में भारत सरकार ने मैनुअल स्कैवेंज अर्थात सीवर या लैटरिंग गड्ढे में उतरकर सफाई करने की प्रक्रिया को बैन कर दिया था लेकिन फिर भी आज अवैध तरीके से ये काम होता है। 2017 से लेकर 2021 तक 330 लोगो की इससे मौत भी हो चुकी है। इसी समस्या को दूर करने के लिए इस स्टार्टअप ये जिम्मेदारी अपने कंधों पर ली है।

Solinas क्या है?

Solinas रोबोटिक्स और डिजिटलीकरण के माध्यम से गटर, सीवर और लेटेरिंग गड्ढे साफ करने वाली मशीन का निर्माण करते है। इन्होंने अभी तक 3 मशीनों का निर्माण किया है –

  • HomoSEP – सेप्टिक टैंक की सफाई करने वाला रोबोट
  • Endobot  – सीवर और पानी पाइपलाइन निरीक्षण रोबोट
  • iGlobus – पाइप में लीकेज का निरीक्षण करने वाला रोबोट

दिवांशु कुमार जब IIT मद्रास में पढ़ते थे तभी इन्होंने कॉलेज असाइनमेंट के रुप में इस प्रोजेक्ट पर काम करना शुरू किया था इसके बाद भावेश नारायणी, मोइनक बैनर्जी और लिंडा जैसलीन ने इनको जॉइन किया और चेन्नई से इस स्टार्टअप की शुरुआत की।

अभी तक Solinas ने कितना पैसा बनाया?

Solinas अपने इस बिजनेस से सालाना करोड़ों का रेवेन्यू प्राप्त कर रहे है।

वित्त वर्षरेवेन्यू (रु.)
2021-221.2 करोड़
2022-235 करोड़ (अनुमान)

Solinas ने शार्क टैंक से पहले कितनी फंडिंग उठाई है?

Solinas के फाउंडर ने पहले भी सीड फंडिंग राउंड में 26 करोड़ के पोस्ट-मनी वैल्यूएशन पर 4.2 करोड़ की फंडिंग उठाई थी।

Solinas के फाउंडर ने कितनी फंडिंग की डिमांड की?

Solinas के फाउंडर ने 2% एक्वटी पर 90 लाख रुपयों की डिमांड की जिसकी वैल्यूएशन 45 करोड़ लगाई गई।

फाउंडरफंडिंग प्राइसएक्वटीवैल्यूएशन
दिवांशु कुमार90 लाख2%45 करोड़

सभी Sharks ने क्या-क्या ऑफर दिए?

अमन गुप्ता को ये बिजनेस समझ ना आने के कारण कोई उन्होंने कोई ऑफर नहीं दिया। अमित, नमिता और अनुपम, पीयूष ने साथ मिलकर ऑफर दिए।

शार्कफंडिंग प्राइसएक्वटीवैल्यूएशन
पीयूष, अनुपम90 लाख3.35%26.9 करोड़
अमित, नामिता52 लाख + 38 लाख कर्ज 10% ब्याज पर2%26 करोड़

फाउंडर का काउंटर ऑफर

फाउंडर ने नमिता और अमित से वैल्यूएशन बढ़ाने की अपील की जिसके बाद नमिता और अमित ने अपने ऑफर बदल दिया।

फंडिंगएक्वटीवैल्यूएशन
66 लाख + 24 लाख कर्ज 10% ब्याज पर2%33 करोड़

फाइनल डील किसको मिली?

फाउंडर को उधार नहीं चाहिए था केवल एक्वटी देकर पैसे चाहिए थे। इसीलिए नमिता और अमित इस डील से बाहर हो गए। उसके बाद पीयूष और अनुपम ने इनको 3% एक्वटी के बदले 90 लाख रुपये देने का ऑफर दिया। 

फाउंडर ने ये ऑफर स्वीकार कर लिया और ये डील पीयूष और अनुपम के नाम गई।

शार्कफंडिंग प्राइसएक्वटीवैल्यूएशन
पीयूष & अनुपम90 लाख3%30 करोड़

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Important Information:  Important Information: हम किसी भी तरह की Paid Tips या Advise नहीं देते हैं, साथ ही हम किसी भी स्टॉक को खरीदने की सलाह भी नहीं देते बड़े पब्लिकेशन के द्वारा दी गई जानकारी को हमारे द्वारा पुन अधिक जानकारी के साथ प्रकाशित करते हैं। हम किसी भी तरह की भ्रामक सूचना भी साझा नहीं करते हैं। ध्यान दें कि हम किसी भी प्रकार की Tips और Advise किसी शेयर को खरीदने के लिए हमारे किसी भी प्लेटफार्म जैसे WhatsApp Group, Telegram Group, YouTube पर भी साझा नहीं करते हैं

हमारी टीम से बात करने के लिए मेल करे info.avsvishal@gmail.com

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *