गौतम अडानी ने 150 अरब डॉलर निवेश करने का बड़ा लक्ष्य रखा?

अडानी ग्रुप के फाउंडर व चेयरमैन गौतम अडानी लगातार अपने व्यापार का विस्तार करने में लगे हुए है। कुछ ही सालों में अडानी ने टेलीकॉम, सीमेंट, मीडिया आदि से लेकर ग्रीन एनर्जी तक अपना विस्तार कर लिया है। अडानी ग्रुप के चीफ फाइनेंस ऑफिसर ने कंपनी के लक्ष्य बताते हुए कहा कि हम अगले 5-10 सालों में 150 अरब डॉलर का निवेश करके कंपनी को 1 ट्रिलियन डॉलर की मार्केट वैल्यू तक पहुँचाना चाहते है।

एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति गौतम अडानी (Gautam Adani) अब विश्व की कुछ चुनिंदा कंपनियों में शामिल होना चाहते है जिनकी मार्केट वैल्यू 1 ट्रिलियन डॉलर से ज्यादा है। अडानी ग्रुप 1998 से व्यापार कर रहे है लेकिन जितनी ग्रोथ इन्होंने पिछले 10 सालों में दिखाई है उससे ये एक ग्लोबल प्लेयर बनकर उभरे है।

अडानी ग्रुप का 150 अरब डॉलर के निवेश का प्लान क्या है?

इस समय गौतम अडानी की कुल नेट वर्थ 131.1 अरब डॉलर है लेकिन फिर भी इन्होंने इससे काफी ज्यादा निवेश का प्लान तैयार करके रखा है। दरसअल अडानी ग्रुप के चीफ फाइनेंसियल ऑफिसर जुगेशिंदर ‘रॉबी’ सिंह 10 अक्टूबर को वेंचुरा सिक्योरिटीज लिमिटेड की इन्वेस्टर मीट में शामिल हुए थे वहीँ पर उन्होंने अडानी ग्रुप के भविष्य की नीतियों के बारे में खुलकर जानकारी प्रदान की।

जुगेशिंदर ‘रॉबी’ सिंह ने बताया कि अडानी ग्रुप अगले आने वाले कुछ सालों में विश्व की चुनिंदा 1 ट्रिलियन मार्केट वैल्यू वाली कम्पनियों में शामिल होना चाहता है जिसके लिए अडानी ग्रुप अगले 5-10 सालों में लगभग हर सेक्टर में कुल मिलाकर 150 अरब डॉलर का निवेश करेगा। उन्होंने बताया कि विश्व की कुछ चुनिंदा कम्पनियों में शामिल होना गौतम अडानी का सपना है जिसके लिए हम लगातार काम कर रहे है।

अडानी ग्रुप किस सेक्टर में कितना निवेश करेंगे?

अडानी ग्रुप में पोर्ट्स, बिजली उत्पादन और वितरण, नवीकरणीय ऊर्जा, खनन, हवाईअड्डा संचालन, प्राकृतिक गैस, खाद्य प्रसंस्करण आदि सेक्टर्स में व्यापार करता है और इन्हीं क्षेत्रों में कुल मिलाकर 150 अरब डॉलर का निवेश होना है।

किस सेक्टर में कितना निवेश?

  • ग्रीन हाइड्रोजन व्यापार में 50-70 अरब डॉलर का निवेश किया जायेगा।
  • ग्रीन एनर्जी में भी 23 अरब डॉलर का बड़ा निवेश किया जायेगा।
  • परिवहन उपयोगिता में 12 अरब डॉलर का निवेश होगा।
  • एयरपोर्ट्स तथा सीमेंट व्यापार में 10-10 अरब डॉलर का निवेश होगा।
  • विद्युत वितरण में 7 अरब डॉलर का निवेश किया जायेगा।
  • सड़क इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में 5 अरब डॉलर का निवेश होगा।
  • पेट्रोकेमिकल बिजनेस 2 अरब डॉलर और कॉपर सेक्टर में 1 अरब डॉलर के निवेश के साथ -साथ हेल्थ सेक्टर में भी 7-10 अरब डॉलर का निवेश किया जायेगा।

अभी तक अडानी ग्रुप का मार्केट कैप कितना है?

अडानी ग्रुप ने 1998 में एक ट्रेडर के तौर पर अपना व्यापार शुरू किया था। इसकी ग्रोथ 2015 काफी धीरे चल रही थी लेकिन उसके बाद इनकी ग्रोथ ने काफी रफ़्तार पकड़ी है। 2015 में अडानी ग्रुप का मार्केट कैपिटलाइजेशन (Adani Group MCap) मात्र 16 अरब डॉलर था लेकिंन 2022 आते-आते इसमें जोरदार वृद्धि होने के साथ 260 अरब डॉलर पहुँच चुका है।

अभी शेयर करें –

Leave a Comment