nitin nikhil kamath zerodha

कॉलेज छोड़ा, कॉल सेंटर में जॉब की और आज बने देश के सबसे युवा अरबपति….Nikhil Kamath Zerodha

Nikhil Kamath Zerodha : आपने अक्सर ऐसा सुना होगा कि बेटा पढ़ लिख ले, अच्छा कॉलेज पकड़ और उसके बाद तुमको अच्छे पैकेज वाली जॉब मिल जायेगी और तुम्हारी लाइफ सेट हो जायेगी। लेकिन कुछ लोग समाज के बनाये नियमों के विपरीत काम करते है और सफलता की एक नई कहानी लिखते है।

आज हम एक ऐसे युवा की बात करने वाले है जिसने 17 साल की उम्र में अपनी पढ़ाई बीच में छोड़ दी और उसके बाद मात्र 8 हजार रुपये महीने की सैलरी पर कॉल सेंटर पर नौकरी करने लगा। आज उसी युवा ने 15,612 करोड़ की कंपनी खड़ी कर डाली है और देश का सबसे युवा अरबपति भी बनकर लोगों के सामने है।

Zerodha के निखिल कामथ बनें देश के सबसे युवा अरबपति

Forbes India’s Richest Billionaires 2023: फोर्ब्स ने भारत के अरबपतियों की लिस्ट निकाल दी है जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अम्बानी 83.4 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ पहले स्थान पर है। जबकि Zerodha के कोफाउंडर निखिल कामथ (Nikhil Kamath) को देश का सबसे युवा अरबपति घोषित किया गया है।

निखिल कामथ, नितिन कामथ के छोटे भाई है। इन्होंने अपने बड़े भाई नितिन के साथ मिलकर जीरोधा को इस स्तर तक पहुँचाया है। इन दोनों भाइयों की कुल नेटवर्थ 1.1 अरब डॉलर तथा 2.7 अरब डॉलर है।

कॉल सेंटर में नौकरी से लेकर Zerodha तक का सफर…

निखिल कामथ ने 17 साल की उम्र से ही नौकरी करना शुरू कर दिया था जहाँ उनको 8 हजार प्रति महीना मिला करते थे। निखिल के पिता जी की कुछ सेविंग्स थी जिनको वो अच्छी जगह इन्वेस्ट करना चाहते थे। पिता को निखिल पर काफी भरोसा था इसीलिए उन्होंने अपनी सेविंग्स निखिल को मैनेज करने के लिए दे दी।

निखिल ने ट्रेडिंग की शुरुआत कर दी लेकिन शुरुआत में उनको बिल्कुल भी मजा नहीं आता था लेकिन अगले एक साल में उनको बाजार का अच्छा ज्ञान हो गया था और वो इससे प्रॉफिट भी बनाने लग गए थे। जब निखिल ने शेयर मार्केट से अच्छी खासी कमाई करना शुरू कर दिया उसके बाद उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ दी और 2010 में अपने बड़े भाई के साथ मिलकर Zerodha की शुरुआत की।

Zerodha कैसे बनीं देश की सबसे बड़ी स्टॉक ब्रोकरेज कंपनी?

इस समय Zerodha देश की सबसे बड़ी स्टॉक ब्रोकरेज कंपनी है जिसने आज तक एक भी रुपये की फंडिंग नहीं उठाई है। बिना मार्केट से एक भी रूपया उठाये दोनों भाईयों ने 15,612 करोड़ रुपयों की एक प्रॉफिटेबल कंपनी कड़ी कर दी है।

जीरोध ने वित्त वर्ष 2021-22 में 2,094 करोड़ रुपयों का शुद्ध लाभ किया था जबकि वित्त वर्ष 2022-23 ये लाभ 87% बढ़कर 4,964 करोड़ रुपयों तक पहुँच गया है।

इन्हें भी पढ़ें – स्टार्टअप की सफलता की कहानियाँ

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Important Information:  Important Information: हम किसी भी तरह की Paid Tips या Advise नहीं देते हैं, साथ ही हम किसी भी स्टॉक को खरीदने की सलाह भी नहीं देते बड़े पब्लिकेशन के द्वारा दी गई जानकारी को हमारे द्वारा पुन अधिक जानकारी के साथ प्रकाशित करते हैं। हम किसी भी तरह की भ्रामक सूचना भी साझा नहीं करते हैं। ध्यान दें कि हम किसी भी प्रकार की Tips और Advise किसी शेयर को खरीदने के लिए हमारे किसी भी प्लेटफार्म जैसे WhatsApp Group, Telegram Group, YouTube पर भी साझा नहीं करते हैं

हमारी टीम से बात करने के लिए मेल करे info.avsvishal@gmail.com

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *